आज एक सोच नई सोच संस्था के युवा साथियो ने महात्मा गांधी जी ओर लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती के अवसर पर यमुनानगर जगाधरी रेलवे स्टेशन पर स्वछता जागरूकता अभियान चलाया

101

आज एक सोच नई सोच संस्था के युवा साथियो ने महात्मा गांधी जी ओर सादगी एवम ईमानदारी और महान देशभक्त पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती के अवसर पर यमुनानगर जगाधरी रेलवे स्टेशन पर स्वछता जागरूकता अभियान ओर रेलवे परिसर में सफाई अभियान चलाकर सभी भारतीयों के लिए प्रेरणास्रोत बने इसके लिए Ek Soch Nai Soch NGO स्टेशन अधीक्षक श्री सुशील जोशी जी और मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक रजत गौतम जी का हार्दिक़ दिल से धन्यवाद करती है जिनके नेतृत्व में हमारे युवा साथियो को राष्ट्रीय छुट्टी के अवसर पर देश की जनता को राष्ट्रनिर्माण में सहयोग देने के लिए प्रेरणा देने का अवसर प्राप्त हुआ

आज गांधी जयंती पर हम देश की जनता को एक संदेश देना चाहते है महात्मा गांधी को गाली देना आसान है लेकिन गांधी बनना उतना ही मुश्किल महात्मा की उपाधि मिलना कोई आसान बात नही इसके लिए गांधी जी को कितनी ही समस्याओ से गुजरना पड़ा होगा कई बार छोटे छोटे निर्णय लेने के लिए लाखों करोड़ों लोगों का कितना प्रेशर झेलना पड़ता है यह सिर्फ गांधी ही कर सकते थे

देश को आज भी आज के दौर के महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री जी जैसे प्रधानमंत्री की बहुत जरूरत है

आज देश के नेताओ को नेहरू, गांधी, लाल बहादुर शास्त्री की कार्यो में कमी निकालने की बजाय इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है कि वह आज के समय की घरेलू, वैश्विक चुनोतियो से निपटने के लिए प्रभावी ढंग से काम करे और धर्म के नाम पर फैलाये जा रहे जहर को फैलाना बन्द करें और सभी धार्मिक संगठनों पर अंकुश लगाए

आज का दिन केवल झाड़ू मारकर स्वछता अभियान चलाने का नही है बल्कि मानसिक स्वच्छता के गुण को अपने जीवन मे उतारने का है कि देश की जनता भ्रस्टाचार को बढ़ावा न दे धर्म के नाम पर देश के संसाधनों का दुरुपयोग न करें चुनाव के समय मे कुछ पैसे के लालच में आकर मतदान न करे बैंक से लिए हुए कर्ज़ को समय से अदा करने का प्रयास करें

आज हमारे इन युवा साथियो ने रेलवे स्टेशन पर आए हुए यात्री गणों से देश की समस्याओ पर सवाल पूछे कि देश मे कौन कौन सी समस्याए है ओर उन समस्याओ के समाधान में आम जनता क्या सहयोग देगी ज्यादतर लोगो को जवाब था यह सरकार की जिम्मेदारी है और इन लोगो को यह भी नही मालूम कि जब तक देश की जनता इन समस्याओ का समाधान में योगदान नही देगी तब तक कोई बदलाव नही आएगा

वास्तव में देश की जनता को मालूम ही नही है कि उनको करना क्या है क्योंकि आम जनता को मन्दिरो, मस्जिदों, गुरद्वारों, चर्चो, डेरो, मठो में यही बताया जाता है की भगवान सभी समस्याओ का समाधान कर देगा उसका सुमिरन करो और दान मन्दिरो,मस्जिदों,गुरद्वारे,चर्च,डेरो ओर मठो को देदो

ओर मूर्ख धूर्त पाखण्डी अज्ञानी राजनीतिक लोग आम जनता की वोट को प्राप्त करने के लिए झूठे वादे ओर गुमराह करते है कि हमे सत्ता देदो हम सभी समस्याओ का समाधन स्वयम करेंगे

यह दोनों गलत बातें देश की जनता के जहन में इस तरह से बैठ गई है कि लोग इनसे बाहर आना ही नही चाहते

2 Oct 2021 को आज के दिन लोगो को अपनी आदतों में सुधार लाने के लिए संकल्प लेने की जरूरत है और धर्म को छोड़कर राष्ट्रनिर्माण में सहयोग देने की जरूरत है आज हम 21वी सदी में हमे Quality of Life पर विचार विमर्श करने ओर निर्णय लेने की जरूरत है और हमारे देश के अनपढ़ मूर्ख धूर्त पाखण्डी नेता और धार्मिक संगठनों से जुड़े हुए लोग धर्म को डिसकस कर रहे है

Ek Soch Nai Soch NGO पूरे विश्व को एक नई दिशा और दशा दे सकती है और हर व्यक्ति को हमारी इस मुहिम का हिस्सा बनना होगा

इस अवसर पर सेनेटरी सुपरवाइजर सौरभ कुमार, सन्नी, युवा साथी तरुण,नितिन,माणिक,नवीन,कुलविंद्र, कोमल,प्राची,सिमरण, रानी, निशा, निकी, शालू आदि का विशेष सहयोग रहा

Ek Soch Nai Soch NGO
Shashi
7015551486

Read Also