18 करोड़ से 40 किमी लंबे 5 लिंक मार्गों का होगा निर्माण, अगले सप्ताह टेंडर प्रक्रिया शुरू

100

जिले में लगभग 18 करोड़ की लागत से पांच लिंक रोड का निर्माण करवाया जाएगा। इससे एक दर्जन गांवों के ग्रामीणों का रास्ता सुगम होगा। इन मार्गों का निर्माण दस साल से भी अधिक समय से नहीं किया गया है।
नाबार्ड आरआईडीएफ स्कीम के तहत लगभग 40 किलोमीटर के पांच लिंक रोड का निर्माण बीएंडआर विभाग द्वारा किया जाएगा।

अगले सप्ताह रोड की टेंडर प्रक्रिया शुरू होगी। इन मार्गों पर जगह जगह चार हजार से भी ज्यादा गड्‌ढे बने हुए हैं। अकेले सुई-खरकड़ी रोड पर लगभग 900 गड्‌ढे बने हुए हैं। रोड खस्ताहाल होने के कारण हादसे होते हैं और लोगों की जान जाती है। ऐसे में इन सड़क मार्गों का निर्माण होना आवश्यक है। इससे वाहन चालकों को भी राहत मिलेगी।

इस तरह होगा निर्माण कार्य

  • एक सप्ताह बाद बीएडंआर विभाग टेंडर लगाएगा।
  • 20 दिन बाद टेंडर ओपन होंगे।
  • दो महीने के अंदर कंपनी कार्य शुरू करेंगी।
  • रोड निर्माण में 3 से 9 महीने का समय लगेगा।
  • अगस्त 2021 तक पांचों रोड बनकर तैयार हो जाएंगे।

ये है पांच सड़क मार्गों की हालत

  • सुई-राजपुरा खरकड़ी मार्ग पूरी तरह से क्षतिग्रस्त है। रोड के बीच जगह जगह 900 से ज्यादा गड्‌ढे बने हुए हैं। दैनिक भास्कर ने इस क्षतिग्रस्त सड़क मार्ग के संबंध में पूर्व में समाचार प्रकाशित किया था। लगभग 8 किलो मीटर लंबे इस मार्ग की दूरी तय करने में वाहनों को 30 मिनट का समय लगता है। निर्माण होने के बाद वाहन चालक 10 मिनट में यह दूरी तय कर पाएंगे।
  • तालु-सिवाड़ा लिंक की हालत भी वर्षों से खस्ता है और जगह जगह 200 से ज्यादा गड्‌ढे बने हैं।
  • धनाना-जाटू लुहारी मार्ग में भी 500 से ज्यादा गड्‌ढे हैं और कई स्थानों से रोड पूरी तरह से टूटा हुआ है।
  • मुंढाल-सुखपुरा रोड पर भी 150 से ज्यादा गड्‌ढे हैं। इससे चालकों को परेशानी होती है।

जल्द काम शुरू किया जाएगा, तय समय में करेंगे पूरा

विभाग पांच लिंक रोड का निर्माण करेगी। अगले सप्ताह रोड निर्माण की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। रोड निर्माण कार्य पूरा होने में तीन से नौ महीने का समय लगेगा। कृष्ण कुमार, कार्यकारी अभियंता, बीएडंआर