हाईकोर्ट में याचिका दाखिल,राम रहीम की फरलो रद्द करने के लिए

152

चंडीगढ़. डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को फरलो देने पर लगातार सवाल उठ रहे हैं. पंजाब विधानसभा चुनाव से ठीक पहले उन्हें हरियाणा सरकार की ओर से फरलो दिया गया है. वह 21 दिन जेल से बाहर रहेंगे. इस पर जमकर राजनीति भी हो रही है. वहीं, पटियाला के निवासी ने राम रहीम की फरलो रद्द करने के लिए लिए अब पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है. हाईकोर्ट इस मामले में शुक्रवार यानी आज सुनवाई करेगा.

जानकारी के अनुसार, पटियाला के भादसों के निवासी ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर कहा कि डेरा प्रमुख कई संगीन अपराध में दोषी करार दिया जा चूका है. उसके खिलाफ कुछ और आपराधिक मामले चल रहे हैं. पंजाब विधानसभा चुनाव से ठीक पहले एक ऐसे अपराधी को फरलो देना पूरी तरह से गलत है. डेरा प्रमुख को राजनैतिक फायदा उठाए जाने के लिए ही दी गई है. क्योंकि डेरा प्रमुख इन चुनावों को प्रभावित कर सकता है, इसलिए डेरा प्रमुख की पैरोल रद्द की जानी चाहिए.

फरलो के बाद कहां है रामरहीम
फरलो के बाद सात फरवरी को गुरमीत राम रहीम को गुरुग्राम डेरे में लाया गया था. यहां पर उसके परिवार तथा कुछ खास लोगों के अलावा कोई भी राम रहीम से नहीं मिल सकता है. पुलिस ने पूरे इलाके में नाके लगाए हैं. वहीं, राम-रहीम जिसको चाहता है, पुलिस उसी को प्रवेश देती है. पुलिस की ओर से डेरे के भीतर जाने वाले सामान की स्कैनिंग की जाती है. साथ ही आने वालों को गहन जांच के बाद ही प्रवेश दिया जा रहा है.