बेटा चाहता था पिता, 7 साल बाद हुई बच्ची पर दोनों टांगें रख दी, सांस नहीं ले पाने से हुई मौत, सिर्फ पांच दिन की थी मासूम

124

5 दिन की बेटी की पिता ने इसलिए हत्या कर दी, क्योंकि वह बेटा चाहता था। उसने बच्ची पर दोनों टांगें रख दी। वजन के चलते बच्ची सांस नहीं ले पाई और मौत हो गई। मां ने देखा कि बच्ची पर पति ने टांगें रखी हुई हैं तो उसने बच्ची को निकाला, लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुकी थी। मां ने शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने शिकायत पर पिता पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

रूपनगर कॉलोनी निवासी वर्षा ने सदर यमुनानगर पुलिस को शिकायत दी कि वे यूपी के थाना भवन के रहने वाले हैं। यहां किराए पर रहते हैं। उसकी शादी नीरज के साथ हुई थी। कई साल तक उसे कोई बच्चा पैदा नहीं हुआ। 7 साल बाद उसके पास 24 सितंबर 2020 को बेटी पैदा हुई। उसका नाम उन्होंने काकी रखा था। 28 सितंबर को पति घर पर नशा कर आया।

वह बेड पर बच्ची के पास लेट गया। उसने नशे की हालत में बच्ची पर टांगें रख दीं। कुछ देर बाद जब उसने बच्ची को देखा तो निकाला, लेकिन तब तक बच्ची की मौत हो चुकी थी। इसके बाद नीरज मौके से फरार हो गया। वर्षा ने बताया कि उसका पति चाहता था कि बेटा हो। लेकिन बेटी हुई तो वह गुस्से में आ गया था। कहता था कि बेटी की शादी के लिए वह पैसे कहां से लेकर आए। पति मजदूरी करता है। इधर, आरोपी के भाई दीपक ने कहा कि उसके भाई ने बच्ची की हत्या नहीं की। भाई को झूठे केस में फंसाया है।