कोरोना से असमय जान गंवाने वाले 50 लोगों को श्रद्धांजलि, 48 मृतक पहले से ही किडनी, डायबिटीज, हार्ट और कैंसर जैसे गंभीर रोग से थे ग्रस्त

132

कोरोना की वजह से रोहतक के 50 अपने लोगों ने असमय जान गंवा दी। जिले में कोरोना से पहली मौत 30 मई को हुई थी। इसके बाद तीन माह 18 दिन के अंतराल में 50 लोगों को कोरोना ने अपना शिकार बना लिया। शुक्रवार को कोरोना से 50वीं मौत हुई। 50 में से 96 फीसदी यानी 48 लोग पहले से ही किडनी, डायबिटीज, हाइपरटेंशन, कैंसर, फेफड़े और दिल सहित अन्य कई रोगों से ग्रस्त थे।। इनमें से 28 मृतक 60 से 88 वर्ष तक की उम्र के हैं। चिंता की बात यह है कि 21 से 40 वर्ष के भी 11 लोग कोरोना की चपेट में आने के बाद मौत का शिकार बन चुके हैं।

एमडीयू में 50 फीसदी स्टाफ ही आएगा
एमडीयू कुलपति के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद दूसरे दिन शुक्रवार को विश्वविद्यालय में कर्मचारियों के काम करने को लेकर नई एसओपी जारी की गई। एसओपी के अनुसार 50 फीसदी स्टाफ की उपस्थिति में विश्वविद्यालय में गतिविधियों का संचालन किया जाएगा।

कोरोना से अपने को खोने वाले पीड़ित की अपील

मैंने दादी को खोया है, आप नियमों का पालन कर अपनों को बचाएं

मेरी दादी 75 साल की थीं। वो घर पर रहती थीं। 26 अगस्त को लक्षण दिखने पर टेस्ट करवाया तो पॉजिटिव निकलीं। वे 16 सितंबर तक पीजीआई में भर्ती रहीं। इस दौरान दो और टेस्ट किए गए, जिनमें निगेटिव रिपोर्ट आई। दादी की शरीर में ऑक्सीजन की कमी और फेफड़े सही ढंग से काम नहीं कर रहे थे। इस वजह से उनकी हालत बिगड़ गई और इलाज के दौरान उनका निधन हो गया। परिवार के किसी सदस्य का दुनिया से चले जाना, अपूर्णनीय क्षति होती है। लोगों से अपील है कि कोरेाना संक्रमण से बचाव करें। भीड़ में जाने से बचें और चेहरे पर मास्क लगाकर रखें ताकि आप सुरक्षित रहें।- वैभव शर्मा, कारोबारी, पेच परसराम

रिकवरी रेट में 2.4% सुधार, 68 नए केस डीएलएफ कॉलोनी के युवक की जान गई

नौ दिन तक 100 के पार कोरोना केस मिलने के बाद अब दो दिन से कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के ग्राफ में गिरावट दर्ज की जा रही है। शुक्रवार को 1749 लोगों की सैंपलिंग में 68 लोग में कोरोना संक्रमित मिला है। 251 लोगाें काे डिस्चार्ज किया है। वहीं जिले में कोरोना से 50वीं मौत डीएलएफ कालोनी निवासी 39 वर्षीय युवक की हुई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से दो दिन में जिले में 3557 लोगों की सैंपलिंग कराई गई है। इसमें महज 4.5 फीसदी यानी 160 लोगों में ही कोरोना संक्रमण मिला है। लगातार दूसरे शुक्रवार कोविड पॉजिटिवटी रेट 4.6 फीसदी रहा और रिकवरी रेट 2.4 फीसदी सुधरकर 75.6 फीसदी पर जा पहुंचा।

दो स्वस्थ युवाओं की हो चुकी मौत

कोरोना से माैत का आंकड़ा 50 हो चुका है। ऑडिट में पाया गया है कि 95% पहले किडनी, डायबिटीज, हार्ट व फेफड़े सहित अन्य रोगों से ग्रस्त थे। मृतकों में दो युवक ऐसे हैं जिनमें पहले से कोई बीमारी नहीं थी।- डॉ. अनिल बिरला, सिविल सर्जन