ओलिंपिक में पहुंचने का सपना होगा साकार, खेलों का प्रशिक्षण देने के लिए खोले जाएंगे खेलो इंडिया लघु केंद्र

119

खेलों में अपना भविष्य संवारने की सोच रहे किशोर एवं युवाओं के लिए अच्छी खबर है। भारत सरकार ने युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय के माध्यम से जमीनी स्तर पर खिलाड़ियाें को ओलिंपिक में शामिल 14 खेलों का प्रशिक्षण देकर अच्छे खिलाड़ी तैयार करने के लिए खेलो इंडिया लघु केंद्र योजना का शुभारंभ किया है। जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के अनुसार खेलो इंडिया लघु केंद्र योजना के तहत पूरे देश में 1000 लघु केंद्र (खेल केंद्र) स्थापित किए जाएंगे।

इन लघु केंद्रों पर नवोदित खिलाड़ियों को पूर्व चैंपियन खिलाड़ियों से विभिन्न खेलों का प्रशिक्षण दिलाने की योजना है। जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी परसराम ने बताया कि खेलो इंडिया लघु केंद्र योजना के तहत यह सुनिश्चित किया गया है कि पूर्व चैंपियन खिलाड़ियों एवं जिला व प्रदेश स्तर पर पिछले पांच साल से खेलों को बढ़ावा देने वाले संस्थाओं को खेलों का प्रशिक्षण देने का कार्य सौंपा जाए। इससे जहां पूर्व चैंपियन खिलाड़ियों एवं खेलों को बढ़ावा देने वाली संस्थाओं को रोजगार मिलेगा, वहीं इन केंद्रों पर विभिन्न खेलों के खिलाड़ियों की नई पौध तैयार होगी।

जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के अनुसार खेलो इंडिया लघु केंद्रों के चयन के लिए जिले व प्रदेश में पिछले पांच सालों से खेलों को बढ़ावा देने का कार्य कर रही संस्थाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चैंपियन रह चुके खिलाड़ी को भी खेलो इंडिया लघु केंद्र खोलने के लिए मौका दिया जाएगा। इसलिए खेलों को बढ़ावा देने वाली संस्था व पूर्व चैंपियन खेलो इंडिया लघु केंद्र खोलने के लिए नियमानुसार युवा कार्यक्रम एवं खेल विभाग में अपना आवेदन कर सकते हैं। एक संस्था केवल दो से तीन खेलों के लिए आवेदन कर सकता है। आवेदन भारत सरकार द्वारा भेजे गए प्रोफार्मा में भरकर जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी व उपायुक्त के माध्यम से खेल विभाग, हरियाणा को भेजे जाएंगे।

इन 14 खेलों की मिलेगी ट्रेनिंग

युवा कार्यक्रम एवं खेल विभाग के अनुसार इन केंद्रों पर ओलंपिक खेलों में खेले जाने वाले 14 खेलों; आर्चरी, एथलेटिक्स, बाॅक्सिंग, बैडमिंटन, साईकिलिंग, फेंसिंग, हाॅकी, जूडो, रोईंग, शूटिंग, तैराकी, टेबल टेनिस, वेटलिफ्टिंग, कुश्ती, फुटबाॅल व अन्य परम्परागत खेलों का प्रशिक्षण दिया जाएगा। खेलो इंडिया लघु केंद्रों के बेहतर संचालन के लिए सरकार 4 सालों तक आर्थिक सहायता मुहैया करवाएगी। युवा कार्यक्रम एवं खेल विभाग के अनुसार चयनित लघु केंद्रों को भारत सरकार द्वारा एक मुश्त 5 लाख रुपए की राशि खेल मैदान के रखरखाव, खेल उपकरण व खेल किटों के लिए उपलब्ध करवाएगी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2HbvL8x
https://ift.tt/3iNlI7B