अहीरवाल के रणबांकुरों की शौर्य गाथा पर बनाई जाएगी रेजांगला फिल्म

222

वर्ष 1962 के भारत-चीन के युद्ध में अपने अदम्य साहस का परिचय देने वाले अहीरवाल के रणबांकुरों के शौर्य गाथा अब रूपहले पर्दे पर नजर आएगी। इस फिल्म के लिए ग्रामीण उत्थान संस्था की मीटिंग में हुई।

संयोजक मेजर डॉ. टीसी राव ने बताया कि वर्ष 1962 के भारत-चीन युद्ध में अहीरवाल के वीर सैनिकों ने रेजांगला पोस्ट पर चीनियों को कब्जा नहीं होने दिया था।

उनकी तरफ से किए गए हमले का बड़ी ही बहादुरी से जवाब दिया था। कुंमायू कंपनी के इन जवानों ने अपने प्राणों की परवाह किए बगैर चीनियों को भागने को मजबूर कर दिया था। उन्होंने कहा कि अभी तक सेना के पराक्रम पर कई फिल्में बनाई जा चुकी है लेकिन जिस युद्ध में अहीरवाल के सैनिकों ने अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया वह अभी तक पर्दे पर नहीं आया है।

इसके लिए फाउंडेशन के पदाधिकारियों ने अभिनेत्री सायली भगत, प्रोड्यूसर आनंद कुमार, अभिनेता राजपाल यादव,रवि यादव, अभिनेता-प्रोड्यूसर विजय भटोटिया, अजय चौधरी सहित कलाकारों से चर्चा की गई। इस अवसर पर जनरल एसके यादव, बिग्रेडियर करतार सिंह,कमांडेन्ट कुलप्रित यादव सहित अन्य पदाधिकारी शामिल हुए।